Overview of E-Mail in hindi

ईमेल एक सेवा है जो हमें इंटरनेट पर इलेक्ट्रॉनिक मोड में संदेश भेजने की अनुमति देती है। यह लोगों के बीच जानकारी वितरित करने का एक कुशल, सस्ता और वास्तविक समय प्रदान करता है।

What is E-MAIL ADDRESS in Hindi ?

  • ईमेल के प्रत्येक User को उसके ईमेल खाते के लिए एक विशिष्ट नाम दिया गया है।
  • इस नाम को ई-मेल पते के रूप में जाना जाता है।
  • विभिन्न User , ई-मेल पते के अनुसार संदेश भेज और प्राप्त कर सकते हैं।

Format of E-Mail Address in Hindi

  • E-Mail का Format निम्नलिखित है |
    • username@domainname
  • उदाहरण के लिए, admin@eprepation.com एक ई-मेल पता है
  • जहाँ admin , User का नाम है और eprepation.com डोमेन नाम है।
  • उपयोगकर्ता नाम और डोमेन नाम @ (पर) प्रतीक द्वारा अलग किए गए हैं।
  • ई-मेल पते संवेदनशील नहीं हैं।
  • ई-मेल पते में space की अनुमति नहीं होती है।

HISTORY OF E-MAIL

  • ईमेल को बनाने का कार्य 1960 के आसपास ही शुरु हो गया था. लेकिन, अभी तक कोई ठोस आधार नहीं नही बन सका था
  • .ईमेल ने अगले 10 सालों में बहुत विकास किया. और अपना वजूद बना लिया..
  • सन 1971 में ARPANET के एक प्रोग्रामर श्रीमान Ray Tomlinson ने आधुनिक ईमेल बना लिया
  • .इनके द्वारा विकसित किया गया Email इस्तेमाल करने में आसान था.

What is E-mail Header in Hindi?

ई-मेल संदेश की पहली पाँच पंक्तियों को E-mail Header कहा जाता है। Header भाग में निम्नलिखित फ़ील्ड शामिल हैं:

  • From
  • Date
  • To
  • Subject
  • CC
  • BCC

Advantages Of e-mail

ई-मेल संचार के शक्तिशाली और विश्वसनीय माध्यम होने का दावा किया है। ई-मेल के लाभ इस प्रकार हैं:

  • Reliable
  • Convenience
  • Speed
  • Inexpensive
  • Printable
  • Global
  • Generality

Disadvantages

  • Forgery
  • Overload
  • Misdirection
  • Junk
  • No response

यह भी देखे

Component of E-mail in Hindi

ई-मेल प्रणाली में निम्नलिखित तीन Component होते हैं:

  • Mailer
  • Mail Server
  • Mailbox

Working of E-mail in Hindi

  • ईमेल क्लाइंट सर्वर दृष्टिकोण का अनुसरण करता है।
  • क्लाइंट में मेलर यानी मेल एप्लिकेशन या मेल प्रोग्राम और सर्वर एक ऐसा उपकरण है जो ईमेल का प्रबंधन करता है।

निम्नलिखित उदाहरण आपको ईमेल भेजने और प्राप्त करने में शामिल बुनियादी चरणों के माध्यम से ले जाएंगे और आपको ईमेल सिस्टम के काम करने की बेहतर समझ प्रदान करेंगे:

  • मान लीजिए कि व्यक्ति P व्यक्ति Q को एक ईमेल संदेश भेजना चाहता है।
  • व्यक्ति P मेलर प्रोग्राम यानी मेल क्लाइंट का उपयोग करके संदेशों को लिखता है और फिर भेजें विकल्प का चयन करता है।
  • संदेश को Q के मेल सर्वर के लिए Simple Mail Transfer Protocol में भेजा जाता है।
  • मेल सर्वर व्यक्ति Q के लिए निर्दिष्ट क्षेत्र में डिस्क पर ईमेल संदेश संग्रहीत करता है।

कुछ लोकप्रिय वेब आधारित ईमेल सेवायें

Protocol of E-Mail in Hindi

अगर आपको किसी भी प्रकार का सवाल है या ebook की आपको आवश्यकता है तो आप नीचे comment कर सकते है|  क्रपया कमेंट के माध्यम से बताऐं के ये पोस्ट Overview of E-Mail in hindi आपको कैसी लगी आपके सुझावों का भी स्वागत रहेगा Thanks ! दोस्तो daily update के लिए आप हमसे (e-prepation.com)  Facebook पर भी जुड़ सकते है | दोस्तो अगर आपको यह पोस्ट Overview of E-Mail in hindi अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट Overview of E-Mail in hindi को Facebook पर Share अवश्य करें !

Leave a Reply